Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

खरौद में बने स्कूल भवन का दौरा में आने वाले थे जिला कलेक्टर दौरा कैसा, पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा गुपचुप तरीके से 79 लाख के बने भवन में किया गया है लीपापोती

जांजगीर चांपा। जिला जांजगीर चांपा के नगर पंचायत खरौद में स्कूल के लिए बने भवन 4 साल हो गया हैंडओवर नहीं हो पाया है हैंडओवर नहीं होने के कई कारण सामने आए हैं वही स्कूल भवन जो है बनने के बाद जर्जर होना प्रारंभ हो गया था भवन में नगर पंचायत अध्यक्ष द्वारा अपने ही निजी लोगों को रखा गया था और उपयोग किया जा रहा था जिसकी वजह से भवन में गंदगी का आलम आ गया था पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा बनाए गए इस भवन का चर्चा प्रेस वार्ता में मुख्यमंत्री के समक्ष की जाने के बाद युद्ध स्तर पर इस भवन की औपचारिकता के लिए मरम्मत का कार्य प्रारंभ कर दिया गया बड़ी-बड़ी दरारों में पुट्टी का लेप लगाकर के लीपापोती का काम हो चुका है बुधवार को कलेक्टर इस भवन दौरे पर थे कुछ कारणवश दौरा पूर्ण नहीं हो पाया अब दौरे में देखना यह है कि कलेक्टर के जांच के बाद यह भवन गुणवत्ता हीन साबित होता है या गुणवत्ता से भरे हुए सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस भवन के लिए मरम्मत के लिए फिर से लाखों रुपए निकाले गए हैं इस संबंध में पीडब्ल्यूडी इंजीनियर से लेकर एसडीओ और जिला अधिकारी द्वारा कुछ जानकारी लेनी चाहिए मगर इस सम्बंध में चुप्पी साधे हुए गुपचुप तरीके से लीपापोती स्कूल भवन का कर दिया गया है दौरे के बाद पता चलेगा कि यह भवन कितने दिन तक चलने लायक है 79 लाख के बनाए गए भवन पर कई प्रकार से सवाल खड़े हो रहे हैं क्या 7900000 लाख के भवन बनकर तैयार हो गया है या मुख्यमंत्री प्रेस वार्ता के बाद जल्दी बाजी में भवन मरम्मत के लिए फिर से पैसा निकाले गए हैं 79 लाख के भवन भ्रष्टाचार के कारण अब तक हैंडोवर नहीं हो पाया है यह भवन में मरम्मत के लिए फिर से पैसों का स्वीकृति किया गया है या ₹79 लाख के भवन में ही मरम्मत किया गया है यह लोगों के सामने सवाल पड़ा हुआ है जिला जांजगीर के प्रशासनिक कार्यों में पारदर्शिता की कमी की वजह से यह सवाल सवाल बनकर रह गया है।

Related Articles

Back to top button