Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

जांजगीर-चांपा : पांच दिन बाद को-वैक्सीन की एक हजार डोज हो जाएगी अनुपयोगी

जांजगीर-चांपा  वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर वैक्सीन को काफी हद तक कारगर माना गया है। लेकिन जिले में अक्टूबर माह के बाद कोरोना के एक भी संक्रमित नहीं मिलने से लोग कोरोना से बचाव के लिए सावधानी नहीं बरत रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए सरकार के गाइडलाइन का पालन तक नहीं कर रहे हैं। वहीं लोगों के लापरवाह होने की वजह से टीकाकरण लगभग बंद हो गया है। टीकाकरण नहीं होने से पांच दिन बाद 31 दिसंबर को कोवैक्सीन के 1000 डोज एक्सपायर हो जाएंगे।

चीन में कोरोना के बढ़ते संक्रमण व नए वैरिएंट मिलने के बाद भारत सरकार ने सभी राज्यों में अलर्ट जारी किया है। हालांकि जिले के लिए अच्छी बात यह है कि लंबे समय से जिले में कोरोना के मामले शून्य हैं। वहीं अफसोस करने वाली बात यह है कि कोरोना वैक्सिनेशन को लेकर अब तक लोग जागरूक नहीं हो सके। यह कहीं जिले के लिए भारी न पड़ जाए। क्योंकि अब तक जिले में सेकंड डोज भी 12 प्रतिशत 18 प्लस के लोगों ने नहीं लगवाया है। वहीं बूस्टर डोज की स्थिति बहुत खराब है। बूस्टर डोज लगवाने के लिए जिले वासियों ने जागरूकता नहीं दिखाई। साथ ही कोरोना केस नहीं होना भी एक कारण है। इसी वजह से बूस्टर डोज अब तक मात्र 26 प्रतिशत लोगों ने लगवाया है।

Related Articles

Back to top button