Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

हाईवा समेत गहरे खदान में गिरा ड्राइवर, दर्दनाक मौत

जांजगीर-चांपा। जांजगीर-चांपा जिले के अकलतरा में एक हाईवा चालक वाहन समेत क्रशर खदान में गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया। अस्पताल ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई। इसके बाद मृत चालक का शव लेकर परिजन वाणी मिनरल्स (तरौद) पहुंच गए और वहां मुआवजे की मांग को लेकर जमकर हंगामा किया। मामला अकलतरा थाना क्षेत्र का है। जानकारी के अनुसार, हाईवा चालक सौखीराम (52 वर्ष) तरौद का रहने वाला था। वो 26 नवंबर की दोपहर 2 बजे हमेशा की तरह हाईवा लेकर तरौद के वाणी मिनरल्स में आया था। हाईवा में बड़े-बड़े बोल्ट पत्थर भरे थे, जिससे गिट्टी का निर्माण होता है। हाईवा को खाली करते समय अचानक गाड़ी का संतुलन बिगड़ गया और चालक सौखीराम हाईवा सहित गहरे क्रशर खदान में गिर गया। जब आसपास काम कर रहे मजदूरों ने हाईवा के गिरने की आवाज सुनी, तो तुरंत दौड़कर खदान के अंदर जाकर देखा, तो वहां सौखीराम उन्हें तड़पता हुआ मिला। वो गंभीर रूप से घायल हो गया था। पूरा शरीर लहूलुहान पड़ा हुआ था।
तब मजदूरों ने उसके घर वालों को फोन किया। जानकारी मिलते ही घरवाले भी तत्काल मौके पर पहुंचे। सौखीराम हाईवा में बुरी तरह से फंसा हुआ था। इसके बाद क्रशर खदान मालिक ने गैस कटर को बुलवाया। मैकेनिक ने गैस कटर से हाईवा के कुछ हिस्सों को काटकर अलग किया और करीब 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सौखीराम को बाहर निकाला जा सका, लेकिन तब तक सौखीराम का बहुत खून बह चुका था। आनन-फानन में उसे बिलासपुर सिम्स ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद घर वाले सौखीराम का शव लेकर शनिवार शाम 7 बजे वाणी मिनरल्स पहुंच गए और वहां मुआवजे की मांग को लेकर हंगामा करने लगे। परिजनों के साथ भारी संख्या में ग्रामीण भी थे। उन्होंने एक घंटे तक वहां चक्काजाम भी कर दिया। सूचना मिलते ही अकलतरा थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। वाणी मिनरल्स के मालिक ने परिजनों को 2 लाख का मुआवजा देकर आंदोलन को रात में खत्म कराया। रविवार को मृत मजदूर के शव का पोस्टमॉर्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया है।

Related Articles

Back to top button