Downlod GS24NEWS APP
देश-विदेश

चीन में चोंगकिंग एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, रनवे पर आग की लपटों से घिरा विमान, 25 लोग घायल

चीन में गुरुवार को एक एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा सामने आया. दरअसल, चीन के चोंगकिंग एयरपोर्ट (Chongqing Airport) पर तिब्बत एयरलाइंस के एक विमान में रनवे पर ही आग लग गई. विमान रनवे से उतर गया और फिर आग (Tibet Airlines Plane) की लपटों से घिर गया. सरकारी समाचर एजेंसी ‘पीपुल्स डेली’ ने तिब्बत एयरलाइंस (Tibet Airlines) के हवाले से बताया कि विमान में 113 यात्री और 9 क्रू मेंबर्स सवार थे, जिन्हें हादसे के तुरंत बाद सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. इस हादसे (Tibet Airlines Plane Fire) की वजह से 25 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है.

सोशल मीडिया पर सामने आए वीडियो में देखा जा सकता है कि रनवे पर खड़े विमान में भीषण आग लगी हुई है. विमान से निकलते धुएं को आसमान में उठते हुए देखा जा सकता है. बचाव दल को मौके पर देखा जा सकता है, जो विमान और उसके आस-पास पानी की बौछार कर आग को काबू में करने का प्रयास कर रहा है. दरअसल, विमान तिब्बत के नियांग्ची जा रहा था. इस दौरान विमान के क्रू मेंबर्स को कुछ असामान्य गतिविधियां महसूस हुईं. इसके बाद टेक ऑफ को तुरंत रोक दिया गया. लेकिन विमान ने टेक ऑफ कर लिया था, उसने तुरंत रनवे पर लैंड किया और इसके बाद आग की लपटों से घिर गया.

दो महीने पहले विमान हादसे में मारे गए 132 लोग

तिब्बत एयरलाइंस ने एक बयान में कहा कि हादसे के वक्त 113 यात्रियों और 9 क्रू मेंबर्स सहित 122 लोग विमान में सवार थे. इन लोगों को तुरंत सुरक्षित विमान से बाहर निकाल लिया गया. चीन में ये हादसा ऐसे वक्त में हुआ है, जब दो महीने पहले दक्षिणी चीन में एक विमान क्रैश हो गया था. विमान एक पहाड़ी इलाके में जाकर क्रैश हुआ था. इस हादसे में विमान में सवार 132 यात्रियों की मौत हो गई थी. चाइना ईस्टर्न बोइंग 737-800 विमान हादसे में एक भी व्यक्ति जिंदा नहीं बचा था.

इस हादसे को लेकर कहा गया कि ये चीन में 30 सालों में सबसे खराब विमान हादसा है. हालांकि, हादसे के दो महीने बाद भी अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि इस दिल दहलाने वाले क्रैश के पीछे की वजह क्या थी. घटनास्थल से दो फ्लाइट रिकॉर्डर्स को बरामद किया गया. इनका अमेरिका में विश्लेषण किया जा रहा है, ताकि ये पता लगाया जा सके कि हादसे के पीछे की असल वजह क्या रही. चीन ने इस हादसे के बाद कड़ी जांच का आदेश दिया था और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया था.

Related Articles

Back to top button