Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ की नन्ही बेटी का कमाल:डेढ़ साल की अनाया ABCD, हिंदी वर्णमाला से लेकर महीनों के नाम बोलती है; इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

जिस उम्र में बच्चे ठीक से बोल भी नहीं पाते उस उम्र में छत्तीसगढ़ की नन्ही बेटी ने कमाल कर दिया है। कोरबा की रहने वाली अनाया राठौर ABCD, महीनों के नाम, अ से अनार तक हिंदी वर्णमाला, दिन के नाम से लेकर बहुत कुछ सिर्फ डेढ़ साल की ही उम्र में जानने लगी है। वो ना सिर्फ इन सब को जानती समझती है, बल्कि बोल भी लेती है। यही वजह है कि इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड ने इस बच्ची को सम्मानित किया है और उसका नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है।

मूल रूप से कोरबा के मुक्ता हरदीबाजार इलाके के रहने वाले रुद्र सिंह राठौर इन दिनों में मुंबई में काम करते हैं। वो वहां पर SBI बैंक में चीफ मैनेजर हैं। रुद्र की पत्नी ममता राठौर हैं। ममता पेशे से टीचर हैं। दोनों की डेढ़ साल की बेटी अनाया है, जिसने कमाल कर रखा है। खास बात ये है अनाया बचपन से ही चीजों को जल्दी समझने और सीखने लगी थी, जिसका फायदा उसे अब मिल रहा है।

25 से ज्यादा जानवरों की आवाज निकाल लेती है

बताया गया है कि इतनी छोटी से उम्र में अनाया ABCD, महीनों के नाम, दिन के नाम, जानवरों के नाम बोल लेती है और समझ लेती है। इसके अलावा वह हिंदी वर्णमाला को भी समझ लेती है। अनाया की मां ममता ने बताया कि वह 25 तरह के जानवरों के साउंड्स भी निकाल लेती है। वहीं और भी कई चीजों के बारे में उसे पता है। मैथ्स के भी नंबर उसे याद हैंं। बच्चों के रैम्स रैन-रैन गो अवे, ट्विंकल-ट्विंकल लिटिल स्टार भी अनाया बोल लेती है। कई तरह की कविता भी उसे पता है, वह उसे बोलती भी है।

एक साल की उम्र के बाद पता चला

ममता ने बताया कि अनाया जब एक साल की हुई तब हमें पता चला कि वह काफी चीजों को जल्दी समझ लेती है। हम उसे पहले टीवी पर चलने वाले कार्टून, रैम्स वगैरह नहीं देखने देते थे। थोड़ा बहुत वह देखती थी उसी से उसे काफी कुछ पता चलने लगा था। इसके बाद हमें समझ आया और हमने खेल-खेल में उसे ये सब बताना शुरू किया, जिसे उसने काफी जल्दी सीख लिया है।

Related Articles

Back to top button