Downlod GS24NEWS APP
Uncategorized

छत्तीसगढ़ – पुलिस अधीक्षक ने विदाई के दौरान वृद्धाश्रम के वृद्धजनों के चरणस्पर्श कर माथे से लगाया, नई जिम्मेदारी को लेकर अधिकारी कर्मचारियों ने दिए शुभकामनाएं, देखे वीडियो

कोरबा पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल को महासमुंद की जिम्मेदारी सौंपी गई है।कोरबा से स्थानांतरण के बाद पुलिस प्रशासन के अधिकारी कर्मचारी अपने कप्तान को विदाई दिए। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशा के अनुरूप कोरबा पुलिस अधीक्षक के कार्यकाल में फरियादियों को त्वरित न्याय दिलाने की मंशा के साथ-साथ अपराधों पर विराम लगाने की मंशा से कई सफल कार्यक्रम संचालित किए गए ।

इन कार्यक्रमों में खाकी के रंग स्कूल के संग, चलित पुलिस थाना, अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र, खाकी के रंग सखी संगीनी के संग,सामुदायिक पुलिसिंग, ऑपरेशन मुस्कान और तुंहर पुलिस तुंहर द्वार शामिल है।

छत्तीसगढ़ के राजकीय गीत “अरपा पैरी के धार” में छत्तीसगढ़ की आत्मा बसी है। पुलिस कप्तान के निर्देश पर इस गीत से कर्तव्य की शुरुआत करने वाला छत्तीसगढ़ का पहला जिला है कोरबा।

 

पुलिस अधीक्षक के कुशल नेतृत्व में पुलिस के द्वारा किए गए इन सफल प्रयासों ने पूरे प्रदेश में कर्तव्य आचरण का उत्तम उदाहरण प्रस्तुत किया है। पुलिस के इस तरह के अनुकरणीय कार्य से प्रभावित और बेहतर पुलिसिंग से लाभान्वित कोरबा के जनमानस वरिष्ठ नागरिक, पत्रकार गण, विद्यार्थी, जनप्रतिनिधि, समाज सेवी संगठन से जुड़े सैकड़ो लोग स्थानांतरण के बाद उन्हें नवीन जिम्मेदारी के लिए बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना किए हैं।

इस दौरान पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के संघर्ष, सफलता के शिखर, जिम्मेदारियों का निष्ठा पूर्वक निर्वहन, उनके व्यक्तित्व और उनके विचार से प्रभावित युवा वर्ग के साथ साथ विभाग के अधिकारी कर्मचारी भी अपने कर्तव्य के प्रति कटिबद्ध रहने की मंशा प्रकट किए।

असहाय एवं कमजोर वर्ग के लोगों के लिए हमेशा मदद के लिए तत्पर रहने वाले भोजराम पटेल ने सहायता की कई बानगी जिले में प्रस्तुत किए हैं।इन्हीं में से एक है सर्वमंगला मंदिर परिसर में संचालित वृद्ध आश्रम। स्थानांतरण की सूचना मिलने पर दर्जनों वृद्ध जनों ने अपने भामाशाह को नई जिम्मेदारी के लिए नम आंखों से बधाई देते हुए श्रीफल भेंट करते हुए उनके सम्मान में आत्मीयता से भरा एक गीत भी प्रस्तुत किए।

उनके इस प्रेम को देख पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने वृद्धजनों के चरण को स्पर्श कर अपने माथे से लगाते हुए आशीर्वाद की कामना किए, और कहां आप मुझसे बड़े हैं। और आप सभी मेरे भगवान है। इस दौरान उपस्थित सभी लोगों की आंखें नम हो गई।

अंत में उन्होंने अपने कर्तव्य मंदिर पुलिस अधीक्षक कार्यालय के श्री को प्रणाम करते हुए नवीन जिम्मेदारियों की ओर चल पड़े।

पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के द्वारा किए गए हर एक कार्य वर्तमान युवा पीढ़ी के साथ-साथ अधिकारी कर्मचारियों के लिए भी अनुकरण करने योग्य है, आपकी दृढ़ता, शालीनता, कर्तव्य निष्ठा एवं सजकता के कारण ही आपके सफल कार्यों पर मुहर लगी है।

Related Articles

Back to top button