Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

*छत्तीसगढ़ी बोली में शुरू हुई पढ़ाई, मुख्यमंत्री कार्यालय ने की जिले की सराहना*

जांजगीर-चाम्पा 07 सितंबर 2022/ मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा 5 सितम्बर शिक्षक दिवस को की गई घोषणा पर जिले में एक दिन बाद से ही अमल शुरू हो गया। सप्ताह में एक दिन छत्तीसगढ़ी में पढ़ाई की घोषणा होने के पश्चात जांजगीर-चाम्पा जिले में त्वरित पालन करते हुए हाई स्कूल मुलमुला की व्याख्याता श्रीमती प्रतीक्षा सिंह द्वारा कक्षा 10 वीं के विद्यार्थियों को अंग्रेजी विषय का अनुवाद छत्तीसगढ़ी में कर पढ़ाया गया। मुख्यमंत्री के घोषणा पर त्वरित अमल कर विद्यार्थियों को अध्यापन कराने पर मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीटर और फेसबुक में जारी कर जहा शिक्षिका और जिले की सराहना की, वहीं कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों के माध्यम से स्कूल में जाकर शिक्षिका को सम्मानित कराया।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने शिक्षक दिवस पर राज्य में छत्तीसगढ़ी भाषा को बढ़ावा देने के लिए सभी स्कूलों में सप्ताह में एक दिन छत्तीसगढ़ी और आदिवासी बोली की शिक्षा प्रदान करने की घोषणा की है। सप्ताह में एक दिन छत्तीसगढ़ी भाषा में पढ़ाई से स्थानीय भाषा को बढ़ावा मिलेगा और छात्रों में पढ़ाई के प्रति लगाव उत्पन्न होगा। जिले के स्कूल में इस पहल के प्रारंभ होने पर कलेक्टर श्री सिनहा के निर्देश पर पामगढ़ विकासखंड शिक्षा अधिकारी राजेन्द्र शुक्ला, व सहायक विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी जयराम सारथी समन्वयक द्वारा श्रीफल व पुष्पगुच्छ से शिक्षिका श्रीमती प्रतीक्षा सिंह का सम्मान किया गया। इस अवसर पर मुलमुला टी आई श्री मोहले, समन्वयक मधुसूदन शर्मा, अजय मरावी एवं स्कूल के स्टाफ उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button