Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

CG में थानेदार से हाथापाई: थाने में घुसकर दबंगों ने किया बवाल, क्रिमिनल्स को छुड़ाने TI से गाली गलौज

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा में भी अब यूपी–बिहार की तरह माहौल निर्मित हो रहा है. लूटपाट के आरोपी को छुड़ाने के लिए दबंगों ने थाने में घुसकर न सिर्फ बवाल कर दिया, बल्कि सरेआम थानेदार हाथापाई भी कर डाली. आरोप है कि पसान के उप सरपंच के बेटे ने अपने साथी के साथ मिलकर कानून का मजाक बनाते हुए थाना प्रभारी से गाली गलौज की. साथ ही हुज्जत बाजी की. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

घटना पसान थाने क्षेत्र की है. मंगलवार को रात के वक्त थाने में जमकर बवाल हुआ. कुछ लोग थाने में घुसकर वीडियो बनाने लगे. बताया जा रहा है कि जनवरी के महीने में फॉरेस्ट गार्ड शारदा प्रसाद शर्मा की रिपोर्ट पर पसान पुलिस ने खमहरिया के रहने वाले दीपक टेकाम के खिलाफ धारा 392, 353, 294, 506, 34 के तहत अपराध दर्ज कर उसकी तलाश कर रही थी.

मंगलवार को पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी दीपक टेकाम पसान में घूम रहा है. पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी को धर दबोचा. उसके पकड़े जाने के बाद से इलाके में राजनीति शुरू हो गई.

पसान थाना प्रभारी लक्ष्मण खुंटे के मुताबिक पसान के उप सरपंच के बेटे राजकुमार पाण्डेय ने थाना प्रभारी को फोन कर आरोपी को छोड़ने का दबाव बनाया, लेकिन प्रभारी ने मना कर दिया. इससे नाराज राजकुमार अपने साथी के साथ रात में ही थाने पहुंचा और जमकर बवाल करने लगा.

एक दिन बाद उसके साथ इलाके के ग्रामीणों ने भी थाने का घेराव कर दिया. थाना प्रभारी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान राजकुमार पाण्डेय और थाना प्रभारी लक्ष्मण खूंटे के बीच हाथपाई भी हो गई. आरोप है कि विवाद होने पर टीआई खूंटे ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर निकाल की और राजकुमार पर तान दिया.

गोली मरने की धमकी देने से नाराज राजकुमार और स्थानीय लोगों ने थाने में जमकर बवाल किया. गांव में तनाव की स्थिति निर्मित हो गई. पुलिस को फोर्स बुलानी पड़ी. पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं. फिलहाल हालात पुलिस के नियंत्रण में है.

पसान उप सरपंच के बेटे राजकुमार ने टीआई लक्ष्मण खूंटे पर ग्रामीणों से मारपीट का आरोप लगाया. राजकुमार की माने तो टीआई ने गांव के युवक को जबरन थाने बुलाया और रात भर मारपीट की. इसका कारण पूछने पर टीआई ने उल्टा गाली गलौज करके सभी को भगा दिया.

थाना प्रभारी लक्ष्मण खूंटे पर आरोप है कि उन्होंने राजकुमार पाण्डेय पर रिवालवर तान दिया. गोली मरने की धमकी दे डाली. थाने के घेराव का वीडियो वायरल हुआ है, लेकिन इस आरोप को थाना प्रभारी ने सिरे से खारीज करते हुए कहा कि टी आई को गन रखने का अधिकार है. मैंने किसी को गोली मारने की धमकी नहीं दी है. यह आरोप बेबुनियाद हैं.

Related Articles

Back to top button