छत्तीसगढ़देश-विदेश

जयसिंह अग्रवाल ने पूर्व कलेक्टर पर लगाया वसूली का आरोप

कोरबा :- कोरबा जिले में मेडिकल कॉलेज को सरकारी मान्यता मिलने के बाद श्रेय लेने की होड़ मची हुई है राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, सांसद ज्योत्सना महंत बीजेपी के नेता अलग-अलग बयान मीडिया में जारी कर रहे हैं,

आज छत्तीसगढ़ के राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल कोरबा तिलक भवन में प्रेस वार्ता कर बताया की शहर के विकास के लिए लगातार मैंने मांग रखी है उसे प्रदेश के संवेदनशील मुख्यमंत्री ने पूरा भी किया है अशोक वाटिका का निर्माण हो या एसईसीएल की सड़कों के मरम्मत की बात हो सभी के लिए फंड उपलब्ध हुआ है मेडिकल कॉलेज के लिए मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडविया डॉक्टर चरणदास महंत कोरबा सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत सहित सभी मीडिया बंधुओं व कोरबा की जनता सभी का सहयोग रहा सभी को धन्यवाद.

प्रेस वार्ता के दौरान राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने डीएमएफ फंड के सवाल पर बिना नाम लिए कहा कि पूर्व पदस्थ कलेक्टर शहर के विकास में रोड़ा बन रही थी उनके आचरण की वजह से उन्हें सजा भी मिली सरकार ने उन्हें समय से पहले 1 वर्ष के अंदर ट्रांसफर कर दिया जबकि 2 से 3 वर्ष का समय रहता है पूर्व कलेक्टर जनता का काम छोड़ सिर्फ टेंडर बनाकर वसूली का काम करती रही उनके निष्क्रियता की वजह से विकास की रफ्तार धीमी रही, डीएमएफ फंड के मामले में मय कलेक्टर पी दयानंद के समय से बोलता चला आ रहा हूं पूर्व कलेक्टर जो आई थी उसने एक महीना तक मीडिया का खूब उपयोग किया सोशल मीडिया पर कुछ लोग एक करोड़ का भ्रष्टाचार खूब चलाया जिसकी जायज रिपोर्ट कहां है किसी ने कलेक्टर से पूछा करोड़ों का भ्रष्टाचार नहीं हुआ करोड़ों रुपए अवैध वसूल कर चली गई पूर्व कलेक्टर डीएमएफ फंड का जिस प्रकार गलत उपयोग किया है उसकी जांच होनी चाहिए और जिसने गलत किया है उस पर कार्यवाही होनी चाहिए चाहे वह कोई भी हो.

शहर की उखाड़ रही सड़कों पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि सड़कों के जो भी निर्माण होते हैं चाहे वह बड़े हो या छोटे शहर की छोटी-छोटी सड़कें हैं उखड़ गयी जिसमें कुछ बीजेपी के लोग नेतागिरी कर रहे थे 15 साल में उन्होंने अगर सड़क बनाए होते तो शायद उन्हें भीख मांगने की जरूरत नहीं पड़ती भीख में उन्हें कितना पैसा मिला क्या 10 या 20 हजार में सड़क बन जाएगी सड़क बनाने में करोड़ों रुपए खर्च होते हैं अगर भीख मांगने से सड़क बनती है तो बता दे कौन सी सड़क बना देंगे सड़क कोई टूट कर अलग नहीं हो गई है अगर कहीं सड़क खराब हो गई है तो उसे ठेकेदार बारिश खत्म होते ही बना देगा गारंटी पीरियड में है सड़कें ठेकेदार अपने पैसे से बनवाएगा ।

Related Articles

Back to top button