Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

शासकीय टीसीएल पीजी कॉलेज जांजगीर में विधि के छात्रों द्वारा मूट कोर्ट का मंचन किया गया

शासकीय टी.सी. एल. पी. जी.कॉलेज जांजगीर में विधि विभाग के छात्र छात्राओं द्वारा मूट कोर्ट का मंचन किया गया शासकीय टीसीएल पीजी कॉलेज जांजगीर में विधि के छात्रों द्वारा मूट कोर्ट का मंचन किया गया

 

शासकीय टी.सी. एल. पी. जी.कॉलेज जांजगीर में विधि विभाग के छात्र छात्राओं द्वारा मूट कोर्ट का मंचन किया गया जिसमें रोल नंबर 1 से 50 तक के छात्रों ने हिस्सा लिया एवं इस कार्यक्रम में हमारे बीच मुख्य अतिथि के रूप में अधिवक्ता माननीय श्री मनमंत शर्मा जी और श्री गणेश शर्मा जी एवं विभाग की एचओडी डॉ. आभा सिन्हा मैम एवं डॉ. अभय सिन्हा सर , प्रोफेसर नरेश आज़ाद, डॉ. जी.एन.सिंग सर जी के गरिमामय उपस्थिति में मूट कोर्ट का मंचन किया गया, जिसमें परिवाद उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 1986 की धारा 12 एवं 24 A से संबंधित था, इस मामले में उपभोक्ता के अधिकारों का हनन हो रहा था, जिसकी सुनवाई उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष एवं सदस्य द्वारा सुनवाई की गई,जिसमें माननीय फोरम द्वारा आवेदक के परिवाद को निरस्त कर दिया गया I इस कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं की भूमिका कुछ इस प्रकार से रही हैं – अध्यक्ष – ( न्यायाधीश ) अजय कुमार, सदस्य – अस्मिता,सदस्य – अंजली पांडे, वादी – अजय कश्यप, प्रतिवादी – बोधप्रकाश, वादी पक्ष वकील – डेनिस कुमार, वादी पक्ष जूनियर वकील – अंकित सिंह, भुनेश्वरी, अमरनाथ, प्रतिवादी पक्ष वकील – आकाश शर्मा, प्रतिवादी पक्ष जूनियर वकील – अजय भारद्वाज, दीपक कुमार, लिपिक – अरुंधती, पुकारकर्ता – अनित कुमार, गवाह वादी पक्ष – अन्नपूर्णा कुमारी (डॉक्टर), आशा कुमारी (पुलिस), एवम्

भृत्य – आशा। इस प्रकार सभी ने अपने – अपने किरदारों को बखूबी निभाया तथा न्यायालय के गतिविधियों को उजागर किया। जिसमें रोल नंबर 1 से 50 तक के छात्रों ने हिस्सा लिया एवं इस कार्यक्रम में हमारे बीच मुख्य अतिथि के रूप में अधिवक्ता माननीय श्री मनमंत शर्मा जी और श्री गणेश शर्मा जी एवं विभाग की एचओडी डॉ. आभा सिन्हा एवं डॉ. अभय सिन्हा , प्रोफेसर नरेश आज़ाद, डॉ. जी.एन.सिंग जी के गरिमामय उपस्थिति में मूट कोर्ट का मंचन किया गया, जिसमें परिवाद उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 1986 की धारा 12 एवं 24 A से संबंधित था, इस मामले में उपभोक्ता के अधिकारों का हनन हो रहा था, जिसकी सुनवाई उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष एवं सदस्य द्वारा सुनवाई की गई,जिसमें माननीय फोरम द्वारा आवेदक के परिवाद को निरस्त कर दिया गया I इस कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं की भूमिका कुछ इस प्रकार से रही हैं – अध्यक्ष – ( न्यायाधीश ) अजय कुमार, सदस्य – अस्मिता,सदस्य – अंजली पांडे, वादी – अजय कश्यप, प्रतिवादी – बोधप्रकाश, वादी पक्ष वकील – डेनिस कुमार, वादी पक्ष जूनियर वकील – अंकित सिंह, भुनेश्वरी, अमरनाथ, प्रतिवादी पक्ष वकील – आकाश शर्मा, प्रतिवादी पक्ष जूनियर वकील – अजय भारद्वाज, दीपक कुमार, लिपिक – अरुंधती, पुकारकर्ता – अनित कुमार, गवाह वादी पक्ष – अन्नपूर्णा कुमारी (डॉक्टर), आशा कुमारी (पुलिस), एवम्

 

भृत्य – आशा। इस प्रकार सभी ने अपने – अपने किरदारों को बखूबी निभाया तथा न्यायालय के गतिविधियों को उजागर किया.। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ अंबिका प्रसाद वर्मा ने सभी छात्र छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए सभी को आगे भी इसी प्रकार की गतिविधि में बढ़-चढ़कर भाग लेने एवं विधि शिक्षा के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए उन्हें प्रेरित किया और कार्यक्रम के समापन की घोषणा की

Related Articles

Back to top button