Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

*रामपुर चौकी प्रभारी कृष्णा साहू व आरक्षक गंगाराम डांडे पर लगा अवैध उगाही का आरोप*

 

कोरबा से विजय मेश्राम की रिपोर्ट,,,,

शिकायतकर्ता ने एसपी से गुहार लगाते हुए रामपुर चौकी प्रभारी कृष्णा साहू और गंगाराम डांडे पर अवैध वसूली का आरोप लगाया है। पुलिस अधीक्षक ने शिकायत पर संज्ञान लेते हुए मामले की जांच एडिशनल एसपी के स्तर के अधिकारी से किए जाने का निर्देश जारी किया: – मामला संक्षेप में इस प्रकार है कि दिनांक 14 अगस्त 2022 को टीपी नगर स्थित विजय कुमार वर्मा नामक व्यक्ति के संस्थान लक्ष्मी इलेक्ट्रिकल शॉप आरक्षक गंगाराम डडे और एक अन्य आरक्षक दुकान में आकर यह कहते हुए कि तुम चोरी का कॉपर वायर खरीदी करते हो तुम्हारे दुकान में चोरी का सामान पड़ा हुआ है चलो कृष्णा साहू रामपुर चौकी प्रभारी के द्वारा बुलाया गया है। और यह कहते हुए प्रार्थी को रामपुर चौकी ले जाया गया और उसे उसके खिलाफ में कापर चोरी का मुकदमा दर्ज कर जेल भेज देंगे और मारपीट करने की धमकी देते हुए ₹200000 की मांग की गई प्रार्थी के पत्नी और भाई भी रामपुर चौकी पहुंचते जिसे रामपुर चौकी प्रभारी द्वारा प्रार्थी और उसके पत्नी और उसके भाई को डराया धमकाया जाता है। और रात 11:00 बजे ₹200000 की राशी भी मंगवाई जाती है जिसे प्रार्थी की पत्नी और उसके भाई के द्वारा अपने आदमी को सकुशल लाने के उद्देश्य से दी जाती है उपरोक्त संबंध में प्रार्थी के द्वारा परिवार और अपने अन्य वरिष्ठ सदस्यों से सलाह मशवरा करने के उपरांत उपरोक्त कृतियों की शिकायत लिखित में आज दिनांक को की गई है जिस पर जिला पुलिस अधीक्षक के द्वारा गंभीरता से लेते हुए तत्काल जांच के निर्देश जारी किए गए हैं

इस मुद्दे पर जब रामपुर चौकी प्रभारी कृष्णा साहू से इन आरोपों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा विजय कुमार वर्मा चोरी का तांबा खरीदने का काम करता है उनसे मैंने 25 किलो तांबा जप्त किया है तब मैंने उनसे तांबे का दस्तावेज मांगा और पूछा आपके पास यह कहां से आया तब उसने किसी प्रकार का जवाब नहीं दिया परसों एक चोर को मैंने जेल भेजा है दोनों एक ही ग्रुप के लोग हैं इसलिए मैंने शिकायत पर 25 किलो तांबा जब्त किया है दस्तावेज मांगा है यदि ये घटना 14 अगस्त की बता रहा है तो आज 29 अगस्त हो गया 15 दिन तक वह शांत क्यों बैठा हुआ था कोरबा जैसे शहर में जहां पर एसपी ऑफिस कलेक्टर ऑफिस लगा हुआ है ऐसे जगह में व्यक्तिगत सोचने के लिए क्या किसी को 15 दिवस लग सकते हैं मेरे ऊपर जो आरोप लगाया सरासर गलत है मैंने तांबे को जप्त कर लीगल कागजात मांगे हैं अगर आरोपी ने सही दस्तावेज नहीं दिखाएं तो उसके ऊपर उचित कार्रवाई की जाएगी

Related Articles

Back to top button