Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

*कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर नगरीय निकाय जांजगीर और शिवरीनारायण में किया गया पौधरोपण*

*स्थानीय जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों द्वारा पौधरोपण कर कृष्ण कुंज का किया गया शुभारंभ* 

जांजगीर-चांपा 19 अगस्त 2022/ मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर वृक्षारोपण को जन-जन से जोड़ने, सांस्कृतिक विरासत से जोड़ने, भावी पिढ़ियों को वृक्षो के परंपरागत महत्व के बारे में जानकारी उपलब्ध कराने और विशिष्ट पहचान दिलाने के उद्देश्य से आज प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में कृष्ण कुंज का शुभारंभ किया गया है। इसी कड़ी में आज नगर पालिका परिषद जांजगीर-नैला और नगर पंचायत शिवरीनारायण में प्रातः 11 बजे जनप्रतिनिधियों, गणमान्य नागरिकों और अधिकारियों की उपस्थिति में पौधरोपण कर शुभारंभ किया गया। हमारे देश में बरगद, पीपल, नीम, कदंब जैसे अन्य वृक्षों की पूजा करने की अत्यंत प्राचीन परंम्परा रही है।

इस अवसर पर भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल की सदस्य श्रीमती मंजू सिह ने कोइलार, सदस्य राज्य महिला आयोग सुश्री शशीकान्ता राठौर ने आम का पौधा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह ने सीताफल, नगर पालिका परिषद जांजगीर-नैला के अध्यक्ष श्री भगवानदास गढ़ेवाल ने कोइलार, अध्यक्ष कृषि उपज मण्डी श्री व्यासनारायण कश्यप ने इमली, पूर्व विधायक श्री चुन्नीलाल साहू ने जामुन, श्री रवि पाण्डेय ने पीपल, कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने बेल, पुलिस अधीक्षक श्री विजय अग्रवाल ने पीपल, वनमंडलाधिकारी श्री सौरभ सिंह ठाकुर ने नीम, जिला पंचायत सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्दिकी ने कदंब का पौधा लगाया। इसी प्रकार अन्य विभिन्न जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और गणमान्य नागरिकों द्वारा फलदार और छायादार पौधरोपण कर जिलेवासियों को कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दी गई। इस प्रकार नगर पालिका परिषद जांजगीर-नैला में कृष्ण कुंज के तहत एक एकड़ क्षेत्र में 200 पौधे और नगर पंचायत शिवरीनारायण के एक एकड़ क्षेत्र में 250 पौधे लगाए गए। कृष्ण कंुज में बरगद, पीपल, नीम, आम, गुलर, बेल, आंवला, और कदंब जैसे सांस्कृतिक महत्व के जीवनोपयोगी पौधो का रोपण किया गया। इसके साथ ही उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों द्वारा कृष्ण कुंज वृक्षारोपण कार्यक्रम में संकल्प लेकर पौधरोपण स्थल पर हस्ताक्षर किया गया। इस अवसर पर विभिन्न जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, अधिकारी-कर्मचारी और आमजन उपस्थित थे।

 

Related Articles

Back to top button