छत्तीसगढ़

*परिवार परामर्श केन्द्र जांजगीर में प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों का किया जा रहा शीघ्र निराकरण*

परिवार परामर्श केन्द्र जांजगीर द्वारा इस वर्ष 01.01.2022 से 31.08.2022 तक की स्थिति में परिवार परामर्श केन्द्र में कुल 934 प्रकरण प्राप्त हुए हैं। इन प्रकरणों को गंभीरता से लेते हुए पति/पत्नि को बुलाकर परिवार परामर्श केन्द्र के सदस्यों के द्वारा परिवार न बिखरे इस बात को ध्यान में रखते हुए पति/पत्नी को समझाईश देकर दोनों को एक-दूसरे की भावनाओं का आदर करते हुए शांति से रहने के लिए प्रेरित करते हुए 250 परिवारों को मिलाया गया। आवेदिका द्वारा कार्यवाही चाहने पर कुल 89 मामलों में संबंधित थानों में अपराध पंजीबद्ध कराया गया तथा 226 मामलों मे न्यायालय जाने की सलाह देकर प्रकरण का निराकरण किया गया है। दोनों पक्षकारों के अनुपस्थित रहने पर परामर्श केन्द्र द्वारा 106 प्रकरणों को नस्तीबद्ध किया गया है तथा वर्तमान में 263 प्रकरण पक्रियाधीन है।
परिवार परामर्श केन्द्र की बैठक में मामलों की सुनवाई में काउंसलर/सदस्य सुश्री शशिकांता राठौर, श्रीमती रविजा सिंह, श्रीमती निम्नी लदेर, श्रीमती लक्ष्मी यदु, श्रीमती लक्ष्मी यदु, श्रीमती चोलेश्वरी वैष्णव, श्रीमती सीता पांडेय, श्रीमती नीतु चक्रवर्ती, सउनि ममता पांडेय, प्र.आर. सुखदास सुमन, म.प्र.आर. सरोज खलखो, आर. अशोक भारती एवं म.आर. सुधा सोम उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button