Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

विधानसभा अध्यक्ष नहीं करेंगे राज्यसभा की दावेदारी:डॉ. चरणदास की पत्नी और सांसद ज्योत्सना महंत ने कहा-हमारा मन होगा तब जाएंगे, जरूरी नहीं अभी जाएं

राज्यसभा चुनाव के लिए मंगलवार को नामांकन का पहला दिन था। ऐसे में कांग्रेस की ओर से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत को राज्यसभा भेजे जाने के कयास पर विराम लग गया है। डॉ. महंत की पत्नी और कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत ने कहा वो राज्यसभा के लिए दावेदारी नहीं करेंगे। अभी राज्यसभा जाने की कोई इच्छा नहीं है। अभी छत्तीसगढ़ और अपनी जनता की ही सेवा करेंगे। सांसद महंत गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में मीडिया से रूबरू थीं।

कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत ने कहा कि डॉ. चरणदास महंत के बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। उन्होंने कहा था कि मेरी एक ही इच्छा है कि मैं राज्यसभा सांसद बनने की इच्छा कभी पूरा करूं सकूं। जबकि उस बयान में से कभी को हटा दिया गया। जिससे लगा कि वह राज्यसभा सांसद अभी बनना चाहते हैं। हालांकि सांसद महंत ने यह भी कहा कि जब हमारा मन होगा तब राज्यसभा जाएंगे और कोई जरूरी नहीं है कि अभी जाएं।

दरअसल, कोरबा सांसद महंत, बिलासपुर सांसद अरुण साव और मरवाही विधायक केके ध्रुव मीटिंग में शामिल होने के लिए GPM पहुंचे थे। दोनों जिलों का लोकसभा क्षेत्र नवगठित जिले में आता है। ऐसे में विकास और आगे की कार्य योजनाओं को लेकर जिला खनिज न्यास समिति और दिशा समिति के साथ बैठक की गई। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में हुई इस बैठक में सांसद ज्योत्सना महंत अपने बेटे और बेटी के साथ शामिल होने के लिए पहुंची थी।

Related Articles

Back to top button