Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

फ्रेंचाइजी के नाम पर फ्रॉड : वाव मोमोज की फर्जी वेबसाइट के चंगुल में फंस गए कोचर दंपति, 5 लाख की ठगी

रायपुर. फ्रेंचाइजी के नाम पर फ्रॉड का मामला सामने आया है. वाव मोमोज की फर्जी वेबसाइट के चंगुल में फंसकर कोचर दंपति ने 5 लाख रुपये गंवा बैठे. रेस्टोरेंट की फ्रेंचाइजी देने का झांसा देकर ठगों ने लाखों रुपये ठग लिए. फॉर्मेलिटी के नाम पर आरोपियों ने उसके खाते से लाखों रुपये पार कर दिए. पूरा मामला राजेंद्र नगर थाना है. प्रार्थी अंकित कोचर अपनी पत्नी के लिए वाव मोमोज रेस्टोरेंट की फ्रेंचाइजी लेना चाहता था. इसके चक्कर में प्रार्थी फर्जी कॉलिंग साइट के पचड़े में फंस गया. अब आरोपियों ने फ्रेंचाइजी के लिए एनओसी और Approval के नाम पर पीड़ित के खाते से 5 लाख रुपए पार कर दिए. फिलहाल मामले में पुलिस अज्ञात ठगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में जुट गई है.

जानकारी के मुताबिक शांति रेसीडेंसी निवासी अंकित कोचर के साथ 5 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुई है. शातिर ठग ने वाव मोमोज की फ्रेंचाइजी देने के नाम पर पांच लाख रुपये गुगल पे और नेट बैंकिंग IMPS के जरिए ठग लिए. दरअसल, प्रार्थी अंकित कोचर अपनी पत्नी के नाम से रेस्टोरेंट खोलना चाहता था. जिसके लिए उसने Google से wowmomosfranchise.com के जरिए एक ऑनलाइन फॉर्म भरा था. फॉर्म भरने के बाद अलग-अलग माध्यम से जैसे एनओसी और अप्रूवल समेत कई तकनीकी चीजों का हवाला देकर ठगों ने उससे 5 लाख रुपये निकलवा लिए. प्रार्थी को ठगी की आशंका होते ही उसने रेस्टोरेंट के हेड ऑफिस में फोन किया. जिसके बाद उन्होंने बोला हम कोई फ्रैंचाइजी नहीं देते. अगर आपको कोई यह बोल रहा है तो वह फ्रॉड है. राजेंद्र नगर थाना पुलिस ने बताया कि रेस्टोरेंट की फ्रेंचाइजी दिलाने का झांसा देकर 5 लाख की ठगी हुई है. अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी की धारा 420 के तहत अपराध दर्ज कर जांच की जा रही है.

Related Articles

Back to top button