Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

राहुल के रास्ते में चट्टान बना रोड़ा: बोरवेल में बढ़ रहा वाटर लेवल, बच्चे के गले तक पहुंच गया पानी

जांजगीर-चांपा. राहुल को बचाने के लिए एक बार फिर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है. रविवार देर रात सुरंग बनाने के दौरान कुछ रुकावटें आ गई थी. जिसके चलते रेस्क्यू ऑपरेशन रोकना पड़ा था. सुरंग बनाने के दौरान एक बड़े आकार की चट्टान बीच में आने से बचाव कार्य रुक गया था. अब पत्थर को काटने के लिए बिलासपुर से चेन माउंटेन ड्रिल मशीन मंगाई गई है.

फिलहाल बचाव दल चेन माउंटेन ड्रिल की मदद से चट्टान में होल कर सुरंग बनाने की कोशिश कर रहे हैं. चट्टान को टुकड़े-टुकड़े कर रास्ते से हटाया जाएगा. जिससे राहुल तक पहुंचा जा सके.

बता दें कि बचाव दल राहुल से अब महज 8 फीट की दूरी पर है. चट्टान काटने के बाद राहुल तक पहुंचने में टीम को 3 से 4 घंटे और लगेंगे. फिलहाल पूरी घटना में कलेक्टर समेत पूरा प्रशासन नजर रखे हुए है

. मौके पर एनडीआरएफ (NDRF), एसडीआरएफ (SDRF), एसईसीएल (SECL), जिला प्रशासन समेत स्वास्थ अमल लगातार बचाव कार्य में जुटा है. इसके अलावा राहुल के मूवमेंट पर भी लगातार नजर रखी जा रही है. सुबह 5 बजे ही राहुल को 2 केला और जूस दिया गया है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जांजगीर-चांपा कलेक्टर से बात कर रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली. बता दें कि मुख्यमंत्री भी लगातार राहुल के रैस्क्यू ऑपरेशन पर नजर बनाए हुऐ हैं. राहुल को बचाने के लिए सरकार ने पूरी ताकत झोंक दी है. विशेषज्ञों के मुताबिक पथरीली चट्टान के हटने से वहां सांप-बिच्छू मिलने का भी खतरा है. जिसे देखते हुए सीएम ने प्रशासन को एंटी-वेनम और सर्प विशेषज्ञ की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है.

Related Articles

Back to top button