Downlod GS24NEWS APP
छत्तीसगढ़

खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में सुव्यवस्थित धान खरीदी कार्य के लिए समिति प्रबंधक, शाखा प्रबंधक, धान मंडी प्रभारी, ऑपरेटरों को दिया गया प्रशिक्षण

जिले के किसानों की सुविधा के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर 07817-222090 स्थापित

जांजगीर-चांपा 31 अक्टूबर 2022/ कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा की अध्यक्षता में आज जिला पंचायत सभाकक्ष में जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में धान खरीदी की प्रारंभिक तैयारी की समीक्षा की गई तथा सभी समिति प्रबंधक, शाखा प्रबंधक, धान मंडी प्रभारी, ऑपरेटरों तथा संबंधित विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में कलेक्टर ने कहा की धान खरीदी का कार्य शासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता का कार्य है, सुव्यवस्थित धान खरीदी कार्य के लिए मुख्य सचिव द्वारा लगातार मॉनिटरिंग भी की जा रही है, उन्होंने उपस्थित सभी संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को धान खरीदी के कार्य को ईमानदारीपूर्वक करने तथा इस कार्य में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी या लापरवाही करने पर सख्त कार्रवाई करने की बात कही। बैठक में उन्होंने जिले के सभी धान खरीदी केंद्रों में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी को रोकने के लिए शाम 6 बजे के बाद धान खरीदी की गतिविधियां को पूर्णत: बंद रखने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री सिन्हा के निर्देश पर जिले में किसानों को धान खरीदी से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायतों के निराकरण के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर 07817-222090 स्थापित किया गया है। कलेक्टर ने उपस्थित सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को धान खरीदी केंद्र में आने वाले किसानों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखने तथा बेहतर व्यवहार के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। जिससे धान खरीदी केंद्रों में धान बेचने के बाद किसान पूरी संतुष्टि के साथ खुश होकर जाए। खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 के तहत समर्थन मूल्य पर 2 नवंबर से (1 नवंबर को राज्योत्सव के शासकीय अवकाश होने के कारण ) धान खरीदी कार्य की शुरुआत होगी।
जिला पंचायत सभाकक्ष में आज आयोजित प्रशिक्षण में जिला विपणन अधिकारी द्वारा बताया गया कि इस साल जिले में अनुमानित 4 लाख 80 हजार मीट्रिक टन धान खरीदी समर्थन मूल्य पर 101 समितियों के 123 धान खरीदी केंद्रों के माध्यम से की जाएगी। अब तक कुल एक लाख 19 हजार 342 किसानों का पंजीयन किया जा चुका है। कलेक्टर ने बैठक में कोचियों और बिचौलियों द्वारा गलत तरीके से खरीदी केंद्रों में धान की बिक्री ना होने पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं तथा किसी भी प्रकार की अवैध गतिविधियां पाए जाने पर तत्काल प्रकरण पंजीबद्ध कर नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी फरिहा आलम, खाद्य, सहकारिता, विपणन विभाग के अधिकारी, कर्मचारी सहित जिले के सभी समिति प्रबंधक, शाखा प्रबंधक, धान मंडी प्रभारी और ऑपरेटर उपस्थित थे।

प्रशिक्षण में टोकन तुंहर हाथ ऐप के बारे में विस्तार से दी गई जानकारी –

राज्य शासन द्वारा किसानों की सुविधाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से तथा पंजीकृत किसानों को धान खरीदी के लिए टोकन जारी करने की प्रक्रिया के सुव्यवस्थित प्रबंधन के लिए टोकन तुंहर हाथ ऐप विकसित किया गया है। इस ऐप की सहायता से किसान बिना धान खरीदी केंद्र जाए, संबंधित उपार्जन केन्द्र में स्वयं निर्धारित तिथि में धान विक्रय के लिए अपना टोकन प्राप्त कर सकते हैं। इस ऐप के द्वारा किसान को समिति द्वारा दर्ज किसान की जानकारी, भूमि, बैंक खाता, टोकन एवं धान खरीदी सभी नवीनतम जानकारी प्राप्त होगी। ऐप के माध्यम से किसान धान बेचने के लिए अधिकतम 3 बार टोकन कटवा सकेंगे। ऐप के माध्यम से नया टोकन बनाने के लिए सुबह 9.30 से शाम 5.30 बजे तक टोकन कटवाया जा सकेगा। प्रशिक्षण में उपस्थित सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को टोकन तुंहर हाथ ऐप के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई तथा ऐप के माध्यम से पंजी कराने वाले किसानों की सूची अलग रजिस्टर में संधारित करने कहा, जिससे सभी जानकारीयां अद्यतन रखी जा सके।

किसानों की सुविधाओं के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर 07817-222090 स्थापित –

कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा के निर्देशन में जिले के किसानों को धान खरीदी से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत और समस्याओं के निराकरण के लिए जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नंबर 07817-222090 स्थापित किया गया है। जिसके माध्यम से किसान अपनी शिकायतों का निराकरण सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक करा सकेंगे।

बेहतर कार्य करने वाले तीन सोसाइटी को 26 जनवरी के समारोह में किया जाएगा सम्मानित –

प्रशिक्षण में कलेक्टर श्री सिन्हा ने जिले के किसानों को ज्यादा से ज्यादा सुविधा उपलब्ध कराते हुए सुव्यवस्थित ढंग से और इमानदारी पूर्वक धान खरीदी कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिले के ऐसे तीन सोसायटी जो धान खरीदी कार्य में बेहतर प्रदर्शन करेंगे उन्हें 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह में सम्मानित किया जाएगा।

किसानों को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने पर दें विशेष ध्यान – कलेक्टर

बैठक में कलेक्टर श्री सिन्हा ने सभी समिति प्रबंधकों तथा संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को धान खरीदी केंद्र मे किसानों की सुविधाओं के लिए छांव, पानी, बैठने की व्यवस्था, प्राथमिक उपचार की व्यवस्था सहित चेक लिस्ट के अनुसार उपार्जन केंद्रों में कम्प्यूटर, प्रिंटर, युपीएस, जनरेटर, इंटरनेट कनेक्शन, आद्रता मापी यंत्र, तौल हेतु कांटा बांट की उपलब्धता, बारदाना सहित अन्य निर्धारित सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए इनके नियमित उपलब्धता पर विशेष ध्यान देने कहा। इसके साथ ही उन्होंने धान को बारिश से बचाने के लिए कवर की भी व्यवस्था सहित आवश्यकतानुसार धान खरीदी केंद्र में पानी निकासी की व्यवस्था सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने धान खरीदी केंद्रों में समिति का नाम, फसल के समर्थन मूल्य आदि आधारभूत जानकारी बैनर के माध्यम से प्रदर्शित कराए जाने के निर्देश दिए हैं

Related Articles

Back to top button